• January to March 2024 Article ID: NSS8509 Impact Factor:7.60 Cite Score:1089 Download: 45 DOI: https://doi.org/61 View PDf

    परसंस्कृतिकरण के प्रभाव से भील महिलाओं की सामाजिक समस्याओं में आई कमी का अध्ययन (धार जिले के विशेष संदर्भ में)

      कीर्ति गोस्वामी
        शोधार्थी (समाजकार्य) डाॅ. बाबासाहेब अंबेडकर सामाजिक विज्ञान विश्वविद्यालय, डाॅ. अंबेडकर नगर, महू जिला-इंदौर (म.प्र.)
  • शोध सारांश- भील जनजाति महिलायें बदलते सामाजिक परिवेश में सामंजस्य बिठाकर अपना विकास कर पा रही है या नहीं। आधुनिकता के इस दौर में आज भी हम जनजातियों के विकास के लिए उपयुक्त सामाजिक, आर्थिक, शैक्षणिक, राजनीतिक एवं सांस्कृतिक परिस्थितियों का निर्माण नहीं कर पा रहे है। इसके साथ ही यह अध्ययन भील जनजाति पर परसंस्कृतिकरण के नकारात्मक प्रभाव को कम करके सकारात्मक प्रभाव को प्रोत्साहन देने एवं परसंस्कृतिकरण के प्रभाव से भील जनजाति समाज में उत्पन्न समस्या को हल करने तथा इनके विकास हेतु उपयुक्त सामाजिक, आर्थिक एवं सांस्कृतिक परिस्थितियों के निर्माण में सहायक सिद्ध हो सकता है।

    शब्द कुंजी- परसंस्कृतिकरण और भील महिलाओं की सामाजिक समस्याओं में कमी।